CFL Full Form In Hindi | CFL की पूरी जानकारी

CFL Full Form In Hindi | CFL की पूरी जानकारी-गाँव ओर शहर मे आज के वक्त मे ये सीएफ़एल बल्ब अधिक मात्रा मे इस्तेमाल किया जाने वाला बल्ब हैं

CFL 

हम सभी रोज cfl बल्ब को देखते हैं मगर कभी उसके बारे मे जानने की कोसिस नहीं की हैं । आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम इसका फूल फॉर्म ओर इसके बारे मे पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे । 

CFL Full Form In Hindi | CFL की पूरी जानकारी-गाँव ओर शहर मे आज के वक्त मे ये सीएफ़एल बल्ब अधिक मात्रा मे इस्तेमाल किया जाने वाला बल्ब हैं क्युकि इसके बहुत सारे फाइडे हैं जो हम आगे पढ़ेंगे । 

CFL Full Form
CFL Full Form

cfl का फूल फॉर्म क्या हैं ? 

Compact Fluorescent Lamp / कॉम्पैक्ट फ्लोरोसेंट लैंप

CFL का इतिहास 

1990 Peter Cooper Hewitt ने cfl का अविस्कार किया था, उस वक्त cfl की कीमत बहुत महगी थी इस लिए इसे सिर्फ photography के इस्तेमाल मे लाया जाता था । इसे Fluorescent Light की लंबाई को छोटा करने के लिए round ओर u-shape मे बनाया गया था । 

1939 मे पहली बार “Fluorescent Light Bulb” आम जनता के लिए लाया गया । “जनरल इलेक्ट्रिक” के एक enginear ‘Edward E. Hammer’ ने 1976 मे इसका invention किया था । 

CFL क्या हैं? 

“CFL बल्ब मे फ्लोरोसेंट नामक पदार्थ रहता हैं,” इसे हम एनर्जी सैविंग लाइट भी कह सकते हैं, “CFL बल्ब Argon से बनते हैं ओर इसमे थोड़ी सी mercury का भी इस्तेमाल किया जाता हैं” । 

CFL ऊर्जा बचाता हैं, जो की दूसरे बल्ब की मात्रा मे बहुत कम हैं । “इसमे एक ग्लास ट्यूब और दो इलेक्ट्रोड होते हैं” – 

cfl काम कैसे करती हैं? 

CFL में गरमागरम लैंप मे प्रकाश का उत्पादन करने के लिए बहुत सारे यंत्र लगे रहते हैं । इसमे से एक गरमागरम लैंप होता हैं, “फिर प्रकाश बनाने के लिए ‘फिलामेंट’ को गर्म करता है,” – “आर्गन गैस और पारा वाष्प के mix वाली ट्यूब से current गुजरता है,” – “वर्तमान पारा वाष्प को सक्रिय करता है, जो पराबैंगनी प्रकाश बनाता हैं” । पराबैंगनी प्रकाश तब tube के अंदर phosphorus कोटिंग को Excited

करता है, जो View प्रकाश को बनाता है । 

CFL के प्रकार 

Globe CFL BulbsSpiral CFL Bulbs
Tube CFL BulbsPost-CFL Bulbs
Circular CFL BulbsCandle-Shaped CFL Bulbs
Reflector CFL BulbsIncandescent Shaped CFL Bulbs
CFL के मुख्य भाग क्या हैं ? 

सीएफ़एल के मुख्यता 2 भाग होते हैं जो इस प्रकार हैं – 

  • circular board – ये cfl का ऐसा भाग हैं जहा cfl को जलाने के लिए मुख्य कम्पोनन्ट लगे रहते हैं जैसे – resistor, mini transformer, यदि ।
  • Tube – ये कांच का ट्यूब होता हैं जिसमे phosphorus रहता हैं । जो प्रकाश मे बदल डेटा हैं ऊर्जा को । 
CFL ओर led मे अंतर क्या हैं ? 
  • led बल्ब को न्यू जनरेशन का बल्ब माना जाता हैं, जिसके बहुत सारे फाईदे हैं । led बल्ब दूसरे बल्ब के मुकाबले अधिक usefull होती हैं । 
  • जहा cfl बल्ब को जलाने के थोड़ी देर बाद ही ये गर्म हो जाता हैं वही led बल्ब को घंटों तक जलाने के बाद भी ये गर्म नहीं होता । 
  • अगर बल्ब की लाइफ्लाइन की बात करे तो cfl बल्ब की उम्र 8,000 घंटे होती हैं, ओर led बल्ब की लगभग 50,000 घंटे होती हैं । 
  • led बल्ब मे नई technology का इस्तेमाल किया गया हैं, जो बहुत ही कम ऊर्जा का इस्तेमाल करता हैं, वही cfl लगभग 80% ज्यादा ऊर्जा इस्तेमाल करती हैं । 
  • cfl थोड़ा सस्ता होता हैं, लेकिन इसका जीवन बहुत काम होता हैं, वही led थोड़ा महंगा जरूर होता हैं लेकिन इसके फाइडे ओर फीचर इसे खास बनाते हैं । 
  • led बल्ब cfl की तुलना मे हल्का, छोटा, ओर ज्यादा टिकाऊ होता हैं । 
  • led काम बिजली मे भी अच्छे से काम करता हैं, ओर जल्दी खराब भी नहीं होता । 
  • (led बल्ब स्वस्थ ओर पर्यावरण दोनों के लिए अच्छे होते हैं) । 

आशा हैं आपको ये CFL FULL FORM IN HINDI | CFL की पूरी जानकारी अच्छे से समझ आया होगा, अगर आपको इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी समस्या या सवाल हैं तो कमेन्ट जरूर करे । 

अगर आपको लगता हैं ये जानकारी दूसरों से साझा करनी चाहिए तो इसे share जरूर करे ताकि दूसरे लोगों को भी इसका ज्ञान हो पाए । जय हिन्द । 

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. PIN Full Form
  2. UPI Full Form
  3. NCB Full Form
  4. Full Form FIFA

Leave a Reply