UPSC का फुल फॉर्म क्या है? | UPSC का परिभाषा और अर्थ in Hindi

UPSC का फुल फॉर्म हिन्दी मे क्या फुल फॉर्म होता हैं संघ लोक सेवा आयोग। UPSC का अंग्रेजी मे फुल फॉर्म Union Public Service Commission होता है।

क्या आप भी UPSC का फुल फॉर्म ढूंढ रहे हैं? क्या आपको भी UPSC के बारे मे सब कुछ जानना हैं? अगर आपका जवाब हाँ हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पे आए हैं। 

इस लेख के माध्यम से आपको UPSC के बारे मे पूरी जानकारी दी जाएगी। UPSC का फुल फॉर्म क्या होता हैं? UPSC क्या होता हैं? कैसे इसके माध्यम से आप एक सरकारी कर्मचारी बन सकते हैं । IAS, IPS जैसे पद UPSC की मदद से कैसे मिलता हैं? इन सभी सवालों के जवाब आपको दिया जाएगा । 

UPSC का फुलफॉर्म क्या होता हैं?

सबसे पहले हम इसके फुल फॉर्म के बारे मे जान लेते हैं। UPSC का अंग्रेजी मे फुल फॉर्म Union Public Service Commission होता हैं । इसके साथ अगर हम बात करे की इसका हिन्दी मे क्या फुल फॉर्म होता हैं तो इसका हिन्दी मे फुल फॉर्म संघ लोक सेवा आयोग। 

इसके बाद हम जान लेते हैं की इसका मतलब क्या होता हैं। 

UPSC क्या हैं?

UPSC एक तरह का आयोग हैं जो भारत सरकार के द्वारा गठन किया गया हैं। आप जितने भी IAS, IPS, IRS, को जानते हैं या देखते हैं वो सभी UPSC के द्वारा आयोजित परीक्षाओं को पास करके ही ये पद को प्राप्त करते हैं। 

UPSC GRADE A और GRADE B की परीक्षाओं को आयोजित करती हैं। 

UPSC का फुल फॉर्म
UPSC का फुल फॉर्म

UPSC का इतिहास 

ये ब्रिटिश ईस्ट इंडिया के द्वारा 1854 मे लाया गया था। पहले इस परीक्षा को सिर्फ लंदन मे आयोजित की जाती थी। इसके साथ इसके पाठ्यक्रम को इस तरह बनाया गया था की उसे सिर्फ ब्रिटिश उम्मीदवार ही इसे पास कर पाए। 

1864 मे पेहली बार एक भारतीय ने इसे पास किया था, वो थे श्री रविंद्र नाथ टैगोर के भाई श्री सत्येंद्र नाथ टैगोर । इसके बाद प्रथम विश्व युद्ध और मांटेग्यू चेम्सफोर्ड सुधारों के बाद इसे भारत मे आयोजित किया जाने लगा। 

भारत मे पहली बार 1 अक्टूबर, 1926 को UPSC की स्थापना की गई थी। इसके साथ इसके अध्यक्ष इंग्लैंड के सिविल सर्विस के सदस्य सर रॉस बार्कर थे। 

 26 जनवरी 1950 को भारतीय संविधान लागू हुआ, इसके साथ ही संघीय लोक सेवा आयोग को संघ लोक सेवा आयोग की अनुमति प्राप्त हुई। 

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. PIN Full Form
  2. UPI Full Form
UPSC का कार्य क्या हैं?

संविधान के अनुच्छेद 320 के तहत UPSC के कार्यों नीचे दिए गए हैं । 

  • संघ के सेवाओं में नियुक्ति के लिए और भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन करना। 
  • साक्षात्कार के माध्यम से चुने गए उम्मीदवारों की भर्ती। 
  • अधिकारियों की नियुक्ति, पदोन्नति / प्रतिनियुक्ति / अब्जॉर्प्शन कैडर में। 
  • सरकार के सभी अधीन सेवाओं और पदों के लिए भर्ती करना, और इसके साथ नियमों का निर्धारण और संशोधन करना । 
  • अलग अलग सिविल सेवा के अधिकारियों से संबंधित अनुशासनात्मक मामलों को नियंत्रित करना। 
  • सरकार को किसी भी मामलों मे सलाह देना। 
UPSC द्वारा कौन सी परीक्षाओं को आयोजित किया जाता हैं? 

UPSC के द्वारा जो परीक्षा का आयोजन होता हैं वो नीचे दिए गए हैं। 

National Defence Academy and Naval Academy Examination 
Indian Statistical Service Examination
Indian Economic Service Examination
Indian Forest Service Examination
Combined Geo-Scientist and Geologist Examination
Indian Civil Services Examination for recruitment to IAS, IPS, IRS etc officers
Indian Engineering Services Examination
Combined Medical Services Examination
Central Armed Police Forces (ACs) Examination
Combined Defence Services Examination (CDS)

UPSC के लिए योग्यता। 

अगर आप भी एक IAS, IPS अधिकारी बनना चाहते हैं तो आपको इसके बारे मे अन्य जानकारी भी लेनी पड़ेगी। जो नीचे दिए गए हैं। 

EDUCATION 

आपकी एजुकेशन क्वालिफिकेशन ग्रॅजवेशन तक होनी चाहिए, इसके साथ आप इस परीक्षा को ग्रॅजवेशन के लास्ट सेमेस्टर मे भी दे सकते हैं। आप किसी भी स्ट्रीम मे ग्रेजुएट हो सकते हैं, upsc मे कोई रोक नहीं होती, बास आपको ग्रेजुएट होना पड़ता हैं। 

AGE 

UPSC परीक्षा देने के लिए हर वर्ग के लिए अलग अलग उम्र तय किए गए हैं। 

  • GENERAL/OBC के लिए 21-32 वर्ष । 
  • SC/ST के लिए 21-37  वर्ष । 
  • OTHER के लिए 21-35 वर्ष । 
UPSC के परीक्षा pattern 

इस परीक्षा को 3 स्टेज मे किया जाता हैं – Prelims, Mains, और personality tests, इन तीनों परीक्षाओं को पास करने के बाद आप अपने रैंक के अनुसार पद प्राप्त कर पाएंगे। 

PRELIMINARY EXAM 

  • इस मे 2 पेपर होते हैं, उन्हें पास करना होता हैं। पहला पेपर general studies का होता हैं। और दूसरा civil service aptitude test का होता हैं। 
  • ये दोनों पेपर ही 200 अंकों का होता हैं, जिसके लिए 4 घंटे मिलते हैं यानी दो घंटे प्रत्येक के लिए । 

MAIN EXAM 

जो भी अभ्यर्थी prelims को पास कर लेते हैं वो main exam के लिए जाते हैं, जिसमें 9 पेपर होते हैं। इसमे 180-200 तक प्रश्न होते हैं। 

पहला पेपर – जिसमे भारत के 18 अलग अलग भाषा होते हैं उनमें से आपको 1 भाषा मे परीक्षा देना होता हैं। इसमे 20-25 प्रश्न होते हैं जिसकी कुल अंक 300 होता हैं। 

INTERVIEW

ये इस परीक्षा का अंतिम चरण होता हैं इसमें वो अभ्यर्थी भाग लेते हैं जिन्होंने main को पास कर लिया हैं। इसमे आपको आपके इक्षा के अनुसार चुने गए भाषा मे interview देना पड़ता हैं। इसमे आपको तरह तरह के सवाल का जवाब देना पड़ता हैं। 

ये परीक्षा कुल 750 अंकों का होता हैं। और इसे पास करने के बाद आप अधिकारी बन जाएंगे। 

UPSC EXAM HIGHLIGHT 

ExamCivil Services Examination
Exam Level National
Organizing BodyUnion Public Service Commission
Exam TypeOffline
No of Services24
No of Attempts6
Official Websitehttps://www.upsc.gov.in/
 UPSC से जुड़े कुछ सवालों के जवाब 

FAQ 

  1. Q. UPSC के वर्तमान चेयरमैन कौन हैं?

A.UPSC चेयरमैन प्रदीप कुमार जोशी वर्तमान चेयरमैन हैं। 

2. Q.UPSC का मुख्यालय कहाँ है?

A. UPSC का मुख्यालय नई दिल्ली में हैं। 

3. Q.UPSC exam की date कब तब postponed की गई हैं। 

A. UPSC की परीक्षा 27 June से बढ़ाकर 10 ऑक्टोबर 2021 तक की गई हैं । 

4. Q. UPSC की POSTPONED परीक्षा की नयी डेट क्या हैं। 

A.UPSC परीक्षा की नयी डेट 10 ऑक्टोबर 2021 हैं। 

UPSC IAS Exam 2021 Postponed

UPSC IAS Exam 2021 Postponed

आप UPSC के official site से जन सकते हैं। https://www.upsc.gov.in/ 

दोस्तों ये थी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां UPSC को लेकर, आशा हैं आपको अच्छे से समझ आया होगा। अगर आपको किसी प्रकार की कोई समस्या आती हैं तो comment करें । 

अगर आपको भी लगता हैं ये लेख को शेयर किया जाना चाहिए तो इसे जरूर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ share करे । जय हिन्द।

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. NCB Full Form
  2. Full Form FIFA

Leave a Reply