URL का फुलफॉर्म और अर्थ क्या हैं? | URL Full Form

URL का फुलफॉर्म Uniform Resource Locator होता हैं। ये प्रकार का formatted text string हैं, जिसका इस्तेमाल email clients, Web Browser,

हम सभी ने कबही न कबही URL का नाम सुन जरूर हैं, स्कूल और कॉलेज के कंप्युटर के पाठ्यक्रम मे इसका नाम जरूर आता हैं। मगर क्या आपको इक अर्थ पता हैं? क्या आपको इसका मतलब जानना हैं? अगर हाँ, तो मैं आपको बता दूँ। इस लेख मे आपको URL से संबंधित सभी तरह के सवालों का जवाब मिलेगा। 

मैंने ये लेख उन अभी लोगों के लिए लिखा हैं जो भी URL से संबंधित सभी तरह के जानकारी चाहते हैं? अगर आपको भी इससे जुड़ी सभी तरह के सवालों के जवाब चाहिए, तो लेख को पूरा अंत तक जरूर पढे। 

अब बिना किसी देरी के शुरू करते हैं URL के बारे मे विस्तार से जानकारी। 

URL का फुलफॉर्म क्या होता हैं? 

सबसे पहले इसका सवाल जवाब जान लेते हैं, URL का फुलफॉर्म Uniform Resource Locator होता हैं। 

 URL Full Form
URL Full Form

URL क्या होता हैं?

ये प्रकार का  formatted text string हैं, जिसका इस्तेमाल email clients, Web Browser, या किसी software मे किया जाता हैं, ताकि किसी Network Resource की तलाश की जाए। 

Network Resource मे अंदर कोई भी फाइल आ सकती हैं जैसे Text Document, Web Pages,  Graphics या Programs आदि। 

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. PIN Full Form
  2. UPI Full Form

URL के कितने भाग होते हैं?

मुख्याता URL के 3 भाग होते हैं। जो कि – 

  1. Protocol Designation
  2. Host Name or Address
  3. File or Resource Location

इसके सभी substrings मे अलग अलग तरह के Special Characters का इस्तेमाल किया जाता हैं। जो की इस प्रकार हैं 

protocol :// host / location

URL Protocol Substrings क्या होता हैं?

Protocol network protocol को डिफाइन करता हैं जिसके माध्यम से जिसके माध्यम से network resource को आसानी से access किया जा सके। इस तरह के stings छोटे नाम के होते हैं जिसके बाद 3 special character का इस्तेमाल होता हैं, जैसे “://” ये एक तरह का typical name conversion हैं, जो Protocol definition को प्रदर्शित करता हैं। इसका इस्तेमाल कुछ इस प्रकार किया जाता हैं। HTTP (http://), FTP (ftp://) आदि। 

URL Host Substrings क्या हैं?

इसकी सहायता से किसी डेस्टिनेशन computer, network device की पहचान की जाती हैं। Hosts standard Internet Database से आता हैं, जिसे जिसे हम DNS और IP addresses के नाम से जानते हैं। कई websites के Hostname केवल एक single computer को नहीं दर्शाता पर उसके जगह  WebServers के group को दर्शाता हैं। 

URL Location Substrings क्या हैं?

ये किसी भी एक special network के पथ को define करता हैं, जो की उसके host मे मोजूद होती हैं। और इसकी resources किसी host directory या फिर folder मे होती हैं। 

URL का इतिहास 

URL को सबसे पहले Tim Berners-Lee ने बनाया था, इनकी ही एक idea थी की एक ऐसा organisation होना चाहिए जो की सभी Web Pages को unique locational address दे, जिसके माध्यम से उन्हे आसानी से online खोज जा सके। 

जब HTML को बनाया गया, उसके बाद Standard language के इस्तेमाल के साथ World Wide Web मे बहुत सारे page की रचना की गई। उसके बाद hyperlink को बनाया गया, फिर दोनों को साथ मे जोड़ दिया गया। इन सभी के बाद internet रोजाना बढ़ती चली गई। 

URL कैसे काम करता है?

इसे कुछ इस तरह से डिजाइन किया गया हैं ताकि लोगों को इसे याद करने मे ज्यादा मुश्किल न हो, मगर कंप्युटर को किसी भी website को तलाश करने या पहचाने मे information चाहिए होती हैं, जिसे वो आसानी से ढूंढ सके। 

websrowser किसी भी webpage को ढूँढने के लिए IP adress का इस्तेमाल करता हैं, जिसे हम  Internet Protocol कहते हैं, ये एक प्रकार का नंबर होता हैं जो कुछ इस तरह का दिखता हैं – 69.16 2.244.31 

सभी Website के Static URL नहीं होने के कारण ये अक्सर बदलते रहते हैं, जिससे इंटक पहुच पाना मुश्किल होता हैं। इन सभी वजह से हम URL का इस्तेमाल करते हैं क्युकी ये हमेशा एक जैसा रहते हैं। और इसे याद करना भी आसान होता हैं। 

जब भी हम कुछ url मे type करते हैं तब DNS की मदद से उसे corresponding IP मे परिवर्तन कर देता हैं, जिसकी मदद से हम उस वेबसाईट तक पहुच पते हैं। 

विभिन प्रकार के URL 

वैसे URL के बहुत सारे प्रकार होते हैं, पर मैंने आपको समझाने के लिए कुछ नीचे दिए हैं। 

Messy 

इसमे बहुत सारे numbers और letters का समूह होता हैं जैसे – ‘http://www.dortodor .com/woeiruwoei909305820580‘ ये किसी URL computer की मदद से बनाया गया होता जो किसी सामान्य domain के लिए पेज बनते हैं। 

Dynamic

ये URL भी वही से बनते हैं जहा से Messy url आता हैं। ये database के अंत मे होते हैं। ये भी Messy के url की तरह ही दिखाई देते हैं। इसका इस्तेमाल consumer website मे इस्तेमाल होता हैं, travelling websites, Shopping, आदि। जिसमे user अपने सवाल बदलते रहता हैं जिसके कारण जवाब भी बदलता रहता हैं। 

Static

इस तरह के URL Dynamic से बिल्कुल अलग होते हैं। इसके Webpage’s HTML coding के साथ अच्छी तरह से Hard wired किया जाता हैं। इसमे URL कभी नहीं बदलता, चाहे यूजर कितना ही कोसिस क्यू न कर ले। 

Obfuscated

इस तरह के url का इस्तेमाल Phishing Scam मे किया जाता है। इस तरह के URL hidden होते हैं। इसका इस्तेमाल इस तरह से किया जाता हैं की ये बिल्कुल original लगे। इस url पर जब भी कोई user click करता हैं तो उसे Malicious Website पर redirect किया जाता हैं। 

URL में characters क्यूँ इस्तेमाल नहीं होते 

शायद सब नहीं जानते मगर, url मे space का इस्तेमाल नहीं किया जाता, लेकिन RFC 1738 के मुताबिक url के strings मे केवल Alphanumeric characters एवं साथ दूसरे characters जैसे _,*,’,() का इस्तेमाल किया जा सकता हैं लेकिन उसके लिए encode करना पड़ता हैं। 

Secure URLs क्या हैं

secure url की शुरुआत https:// से होता हैं, इस तरह के जो भी website होते हैं उन्हे secure वेबसाईट कहा जाता हैं, क्यूंकी इस तरह के website को hack कर पाना आसान नहीं होता। 

जब भी आप अपने personal डाटा ऐसे किसी भी वेबसाईट पर देते हैं तब आप चेक जरूर कर ले की वो website सिक्युर protocol को फॉलो करता हैं की नहीं। नहीं तो इसकी वजह से आपके डाटा चोरी होने का खतरा बढ़ सकता हैं। 

URL से जुड़े कुछ सवालों के जवाब

FAQ – URL Ka Full Form

Q. 1.URL का अविस्कार किसने किया?

Ans. URL का अविस्कार Tim Berners-Lee ने लिया था।

Q. 2.Racing मे url का क्या मतलब हैं?

Ans. Racing मे url का क्या मतलब Underground Racing League हैं।

Q. 3.Sport मे url का मतलब क्या हैं?

Ans. Sport मे url का मतलब U aRe Last हैं।

Q. 4.news मे url का मतलब क्या हैं?

Ans. news मे url का मतलब Under Rolling Lights हैं।

ये थी पूरी जानकारी url को लेकर, आशा हैं आपको समझ आया होगा, अगर आपको इससे जुड़े कोई सवाल हैं तो comment जरूर करे। 

इसके साथ अगर आपको लगता हैं ये जानकारी आपके दोस्तों या रिस्तेदारों को काम या सकती हैं तो इसे शेयर जरूर करे। जय हिन्द।

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. NCB Full Form
  2. Full Form FIFA

Leave a Reply